70 साल उम्र में महिला बानी मां, 45 साल बाद घर में गूजी किलकारी

जब किसी लड़की की शादी होती है तो उसके बाद वह बहुत जल्द से जल्द बच्चे की मां बनना चाहती है। मां बनने का एहसास दुनिया में सबसे अलग एहसास होता है, जो सिर्फ एक मां बनने वाली औरत ही समझ सकती है। औरत के लिए मां बनना ऐसा खूबसूरत एहसास होता है, जिसे शब्दों में बयां करना बहुत ही मुश्किल है लेकिन कई बार देखा गया है कि शादी के बाद बहुत सी महिलाएं जल्द ही बच्चे की मां बन जाती हैं। वहीं कुछ महिलाएं ऐसी होती हैं जो बच्चे की मां नहीं बन पाती हैं, इस उम्मीद में बरसो गुजर जाते हैं परंतु दंपति की इच्छा अधूरी रह जाती है।

ऐसा कहा जाता है कि अगर उम्र ज्यादा हो जाती है तो ऐसे में महिलाओं के लिए मां बनना बहुत मुश्किल हो जाता है। आप ऐसा समझ सकते हैं कि ज्यादा उम्र में मां बनना लगभग बहुत कठिन है परंतु कुछ ऐसे भी खुशनसीब होते हैं जिन्हें कई वर्षों बाद बच्चे का सुख प्राप्त हो जाता है। आज हम आपको गुजरात के एक मामले के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं, जहां पर एक 70 साल की बुजुर्ग महिला ने बच्चे को जन्म दिया है। जी हां, शादी के 45 सालों के बाद घर में किलकारी गूंजने की वजह से पूरे गांव में खुशियों का माहौल बना हुआ है।

दरअसल, गुजरात के कच्छ के रापना मोरा गांव की रहने वाली जीतूबेन रबारी एक ऐसी खुशनसीब महिला है, जिसके घर में पहली बार बच्चे की किलकारी गूंजी है। शादी के 45 सालों के बाद 70 वर्षीय एक बुजुर्ग महिला को बच्चे का सुख प्राप्त हुआ है। इस महिला ने आईवीएफ से स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया है।

बच्चे के जन्म जन्म के बाद बुजुर्ग अशिक्षित जोड़े की खुशी का कोई ठिकाना नहीं है। इसी सिलसिले में जानकारी देते हुए डॉ. नरेश भानूशाली ने यह बताया है कि यहां आए दंपति की उम्र काफी अधिक है। डॉक्टर ने बताया कि उनका बच्चा होने की कोई भी उम्मीद नहीं थी, पहले हमने उनसे कहा था कि इस उम्र में बच्चा नहीं हो सकता लेकिन इन लोगों को भगवान और डॉक्टर पर बहुत भरोसा था। डॉ. नरेश भानूशाली ने आगे की जानकारी देते हुए कहा कि इस दंपति ने कहा कि हमारे परिवार के अन्य लोगों को बड़ी उम्र में परिणाम प्राप्त हुआ है। इन लोगों ने यह कहा कि आप अपनी तरफ से प्रयास करें फिर हमारी किस्मत।

डॉक्टर ने बताया कि बुजुर्ग महिला ने टेस्ट ट्यूब बेबी से बच्चे को जन्म दिया है। बच्चे के जन्म लेने के बाद दम्पति में बेहद ज्यादा खुशी देखने को मिल रही है और उनकी खुशी देखने के बाद हम भी बहुत ज्यादा खुश हैं। डॉक्टर ने आगे बताया कि यह लोग बड़ी उम्मीद के साथ हमारे पास आए थे और अब उनकी उम्मीदें पूरी हो चुकी हैं। बुजुर्ग दंपति के घर किलकारी गूंजने पर डॉक्टरों की टीम बेहद खुशी का अनुभव कर रही है।

वैसे इस मामले को जानने के बाद यह साफ मालूम होता है कि भगवान के घर देर है पर अंधेर नहीं है। यह भगवान की ही कृपा है जो इस उम्र में इस दंपति को संतान सुख की प्राप्ति हुई है। शादी के सालों बाद घर में किलकारी गूंजने की वजह से पूरे गांव में खुशियों का माहौल है।