दान करने का दिखावा करके अपनी काली कमाई को सफेद कर रहे थे सोनू सूद, पकड़ी गई 20 करोड़ की चोरी

बॉलीवुड के फेमस अभिनेता और गरीबो के मसीहा सोनू सूद ने लॉक डाउन के दौरान गरीबो की बहुत मदद की. प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुँचाने के लिए बसों का इंतजाम करवाया.लेकिन क्या आपको पता है सबके फेवरेट अभिनेता सबकी मदद करने वाले सोनू सूद मुसीबात में फंस गये है .

दरअसल अभिनेता सोनू सूद के घर पर कल इनकम टैक्स का सर्वे खत्म हो गया था जिसके बाद आज एक बड़ी खबर सामने आई हैं। एक न्यूज चैनल की रिपोर्ट के अनुसार, अभिनेता सोनू सूद 20 करोड़ से ज्यादा की टैक्स चोरी में शामिल है।आयकर विभाग ने आज एक बयान में कहा कि तलाशी के लिए लगातार तीन दिनों तक उनके मुंबई स्थित घर का दौरा करने के बाद एक्टर 20 करोड़ से ज्यादा की टैक्स चोरी में शामिल है।

बता दें कि इससे पहले 48 वर्षीय सोनू सूद ने हाल ही में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी सरकार के साथ गठजोड़ की घोषणा की थी। जिसके बाद से ही उनके घर पर आयकर विभाग का छापा पड़ा।कर विभाग ने कहा कि सोनू सूद के गैर-लाभ ने विदेशी दानदाताओं से कानून-विदेशी योगदान (विनियमन) अधिनियम का उल्लंघन करते हुए एक क्राउडफंडिंग प्लेटफॉर्म का उपयोग करके 2.1 करोड़ भी जुटाए हैं, जो इस तरह के लेनदेन को नियंत्रित करता है।

सोनू सूद के खिलाफ कर चोरी से संबंधित आपत्तिजनक सबूत मिले

इसके साथ ही कर विभाग का कहना है कि अभिनेता और उनके सहयोगियों के परिसरों में तलाशी के दौरान, कर चोरी से संबंधित आपत्तिजनक सबूत मिले हैं। अभिनेता द्वारा अपनाई जाने वाली मुख्य कार्यप्रणाली कई लोगों से फर्जी असुरक्षित ऋण के रूप में अपनी बेहिसाब आय को रूट किया गया है।
COVID-19 महामारी के दौरान सोनू सूद चैरिटी फाउंडेशन में आए थे 18 करोड़

अभिनेता के खिलाफ आरोपों के अनुसार, जिनके COVID-19 महामारी से प्रभावित लोगों के लिए परोपकारी प्रयासों ने भारी प्रशंसा अर्जित की है, उनके गैर-लाभकारी सोनू सूद चैरिटी फाउंडेशन ने पिछले साल जुलाई में कोविड की पहली लहर के दौरान करीब 18 करोड़ से अधिक का दान एकत्र किया था। इस वर्ष अप्रैल तक, जिसमें से ₹1.9 करोड़ राहत कार्य पर खर्च किए गए हैं और शेष 17 करोड़ गैर-लाभकारी के बैंक खाते में अप्रयुक्त पड़े हैं।